.. कितना बदल गया इंसान...'रामभक्त' भाजपाइयों ने जूते पहनकर उतारी प्रभु श्रीराम की आरती

फर्रुखाबादः देख तेरे संसार की हालत क्या हो गई भगवान, कितना बदल गया इंसान ... सालों पुराने इस फिल्मी गीत को एक बार फिर सार्थक होते देखा गया जब राम भक्त भाजपाइयों ने भगवान राम की आरती तो की पर जूते पहनकर। सत्ता के प्रतिनिधि खेल एवं युवा कल्याण मंत्री चेतन चैहान के साथ सांसद, विधायक और भाजपा पदाधिकारी भगवान राम और जानकी के मंच से काफी ऊंचे पर खड़े होकर आरती कर रहे थे और वह भी जूते पहनकर। 

क्रिश्चियन इंटर कालेज में आज मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह समारोह आयोजित किया गया था। 84 जोड़े पारम्परिक रूप से दामपत्य सूत्र बंधन में जुड़े। इस भव्य सरकारी समारोह में भगवान् राम के भक्त अगर राम आरती में जूते पहनकर थाली घुमाएं तो शर्म करने की बात बनती ही है।

खेल मंत्री चेतन चौहान से लेकर सांसद मुकेश राजपूत, विधायक मेजर सुनील दत्त, सुशील शाक्य, अमर सिंह और जिलाध्यक्ष सत्य पाल सिंह भी जूते पहनकर आरती करते नजर आये. जब जनप्रतिनिधि और सत्ता के प्रतिनिधि भगवान् राम की आरती में जूते पहनकर श्रद्धा दिखाते रहे तो जिलाधिकारी मोनिका रानी, एसपी मृगेंद्र सिंह और सीडीओ अपूर्वा दुबे भी जूते क्यों उतारतीं।

अधिकारीयों ने भी बाकायदा जूते पहनकर आरती उतारी। वाकया यह है कि  जयमाल से पहले धनुष भंग की लीला का आयोजन किया गया। जिसमे पारम्परिक रूप से राम ने धनुष तोडा और जानकी ने उनके गले में जयमाल डाली। जयमाल की इस रस्म को अन्य जोड़ों ने भी दोहराया। इसी दौरान आयोजन कर रहे गायत्री पीठ  आचार्यों ने दूल्हा राम और दुल्हन सीता की आरती के लिए नेताओं और अधिकारियों को आरती की थाल पकड़ा दी। नेता और अधिकारी  मंच से उतर कर राम और सीता के पास भी नहीं गए और काफी दूर से मंच से ही आरती उतारते रहे। 

राम और जानकी स्वरुप काफी नीचे पर थे और नेता काफी ऊंचे मंच पर. यहीं से आरती उतारी गयीं। एक बार तो एक विधायक ने राम और सीता को मंच के करीब भेजने की आवाज भी लगाईं पर भीड़ से किसी ने जवाब भी दिया कि भगवान् के स्वरुप में हैं वहीं जाओ पर सत्ता के मद में सुनना किसे था।

वहीं मंच से जूते पहनकर आरती शुरू हो गयी। समाजवादी पार्टी ने इस पूरे प्रकरण पर भाजपा को कठघरे में खड़ा किया है। सपा जिला अध्यक्ष नदीम फारूकी ने कहा है कि भाजपाई राम का उपयोग केवल राजनीति के लिए करते हैं उन्हें न तो संस्कार आते हैं और न उनकी राम के प्रति कोई श्रद्धा है।

युवक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष शुभम तिवारी ने कहा कि जब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और पीएम मोदी जूते पहनकर पूजा कर सकते हैं तो चेतन चैहान भी उनके पद चिन्हों पर चल रहे हैं।