सदर थाना क्षेत्र मे एक माह के अंदर मवेशी चराने वाली दूसरी महिला की गला रेतकर हत्या,इलाके मे सनसनी

चतरा/मुख्यालय 11 अक्टूबर :- सदर थाना क्षेत्र जीतनी मोड़ से सटे तरवागड़ा जंगल मे एक महिला की हत्या टाँगी से गला रेतकर कर दी गई | महिला की पहचान चंगेर गांव निवासी रतन यादव की पत्नी फोहवा देवी के रूप मे की गई है | घटना के संबंध मे बताया जाता है,कि मंगलवार को रतन यादव अपने बीमार बच्चे को डॉक्टर से ईलाज कराने चतरा आया हुआ था | मंगलवार दोपहर लगभग बारह बजे रतन यादव की पत्नी फोहवा देवी अपने घर के मवेशियो को चराने गाँव से ही सटे तरवागड़ा जंगल मे ले गई थी | शाम तक जब महिला वापस घर नही लौटी तो उसके पति रतन यादव और कुछ ग्रामीण उसे खोजने जंगल की ओर गये जहाँ महिला मृत अवस्था मे पाई गई | महिला के गर्दन पर धारदार हथियार से वार कर हत्या की गई है | महिला के कपड़े अस्त-व्यस्त थे | थाना प्रभारी रामअवध सिंह ने बताया कि पुलिस मौके पर पहुँचकर शव को कब्जे मे कर पोस्टमार्टम के लिये चतरा सदर अस्पताल भेज दिया गया है | मामला हत्या का है,और पुलिस पुरे मामले की जाँच मे जुट गई है | मृतका के पति ने सदर थाना को आवेदन दिया है,जाँच के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी | गौरतलब है,कि लगभग एक माह पहले भी सदर थाना क्षेत्र के ही हेरू जंगल मे एक महिला की गला काटकर निर्मम हत्या कर दी गई थी | बीते 15 सितंबर को चतरा कॉलेज के पास रहने वाले राधेश्याम प्रजापति की पत्नी महेश्वरी देवी उर्फ उर्मिला देवी हेरू जंगल में बकरी चराने गई थी,जहाँ अज्ञात लोगो ने टाँगी से गला काट कर उसकी हत्या कर दी थी | इस घटना को बीते अभी एक माह भी नही हुआ था,कि मंगलवार को फिर से तरवागड़ा जंगल मे मवेशी चराने गई दूसरी महिला की हत्या पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है |