स्कूल की प्रिसिंपल से तंग आकर छात्रा ने दी जान !

कन्नौज. रेयान स्कुल में छात्र प्रद्युम्न की हत्या का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि एक और छात्रा ने प्रिंसिपल की प्रताड़ना से तंग आकर मौत को गले लगा लिया। मामला यूपी के कन्नौज जिले का है। यहां नवोदय विद्यालय की कक्षा 12वीं की छात्रा ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या इसलिए कर ली क्योंकि उसकी प्रिंसिपल ने उसको स्कूल में प्रवेश देने से मना कर दिया था और उसके माता-पिता की जमकर बेईज्जती की। बता दें फरवरी 2017 में इसी स्कूल में कक्षा 9 की छात्रा ने भी आत्महत्या करने का प्रयास किया था उसके पीछे भी प्रिंसिपल की प्रताड़ना सामने आई थी। 

-दरअसल, ये मामला अनौगी इलाके के नवोदय विद्यालय का है।

-यहां पढ़ने वाली मृतक छात्रा सिमरम इंटर की छात्रा थी। 

-सिमरन गुरसहायगंज कोतवाली के किदवईनगर बाईपास की रहने वाली थी।

-सिमरन के पिता का आरोप है कि स्कूल की प्रिंसिपल ने एक सितम्बर को फोन कर स्कूल बुलाया और सिमरन को घर ले जाने के लिए कहा। 

-प्रिंसिपल ने सिमरन के पिता से एक कागज में बीमारी की वजह से ले जाना लिखा लिया। बेबस पिता ने उस एप्लीकेशन पर साइन कर बेटी को घर ले आया। 

-बेबस बाप सिमरन को लेकर तीन बार स्कूल गया वहां प्रिंसिपल से बेटी को स्कुल में प्रवेश लेने की फरियाद की।

-प्रिंसिपल के मना करने पर उसने बेटी को स्कूल में प्रवेश न लेने का कारण भी पूछा लेकिन दबंग प्रिंसिपल ने सिमरन और उसके माता-पिता को बेइजत कर भगा दिया।

-माता-पिता की बेइजती सिमरन सह नहीं पाई और अकेला मौका पाकर उसने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 

-पीड़ित परिजन सिमरन की मौत का दोषी स्कूल की प्रिंसिपल को बता रहे है। पीड़ित परिजनों ने पुलिस को तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है। 

-वहीं स्कूल की प्रिसिंपल का कहना है कि परिजन जो आरोप लगा रहे हैं कि वह गलत है। सिमरन की मौत बीमारी से हुई है। उसने आत्महत्या नहीं की।