शिक्षा का घोर अभाव : नागेंद्र

सरिया, 13 सितम्बर: नेहरू युवा केंद्र गिरिडीह के तत्वावधान में पड़ोस युवा संसद कार्यक्रम जैन धर्मशाला सरिया में बुधवार को आयोजित किया गया। जिसका उद्घाटन बतौर मुख्य अतिथि स्थानीय विधायक नागेंद्र महतो व प्रखंड प्रमुख रामपति प्रसाद ने दीप प्रज्वलित कर किया। वहीं सानिध्य इंटरनेशनल स्कूल की बच्चियों ने स्वागत गान प्रस्तुत किया,  तथा विधायक ने स्वामी विवेकानंद के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम की शुरुआत की। मुख्य अतिथि  विधायक श्री महतो ने कहा कि झारखंड सरकार द्वारा जनहित में बहुत सारी योजनाएं चलाई जा रही हैं । खासकर बेरोजगारी दूर करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा के तहत कई योजनाओं को चलाया जा रहा है। परंतु जानकारी के अभाव में मजदूरों को इसका समुचित लाभ नहीं मिल पा रहा है ।  वही दलालों के चक्कर में कई योजनाओं में लूट-खसोट व भ्रष्टाचार की शिकायत सुनाई पड़ती है इसे दूर करने के लिए गांव गांव में मजदूरों के बीच जाकर इसका व्यापक प्रचार-प्रसार करने की आवश्यकता है। जिससे गरीबी दूर हो सके।  इन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में आज भी शिक्षा का घोर अभाव है। जबकि सरकार द्वारा गांव गांव, मोहल्ले मोहल्ले में शिक्षण संस्थान खोले गए हैं। उन्होंने देश की आधी आबादी अर्थात नारी शिक्षा पर जोर देने को कहा। वही प्रखंड प्रमुख रामपति प्रसाद ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा के अभाव में आज भी बाल विवाह की प्रथा जारी है। जिससे शारीरिक बीमारियां व्याप्त है। शिक्षा के अभाव में भ्रूण हत्या भी की जा रही है। इन सामाजिक कुरीतियों को दूर करने के लिए भी हम सबों को अग्रसर होना होगा। इसके अलावे संस्था के निदेशक रंजीत कुमार राय,  जिप सदस्य अर्जुन आर्य,  अनूप कुमार पांडे आदि ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता रंजीत राय तथा संचालन रामावतार पांडे ने किया। इस कार्यक्रम में राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक अजय कुमार वर्मा तथा पंकज कुमार की महत्वपूर्ण भूमिका रही । मौके पर किरण वर्मा, अभय कुमार, कुश कुमार, अविनाश कुमार, बसंती देवी, गिरिजा देवी, धीरज कुमार, संजय सुमन, लक्ष्मीकांत शर्मा, संतोष कुमार, संजू देवी, डोली देवी तथा वृंदा देवी सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।