भारत का बॉडी बिल्डर दुनिया के स्पोर्ट्समैन के लिए बना प्रेरणा, AIDS को हराकर बना बेस्ट बॉडी बिल्डर

मणिपुर: मणिपुर के बॉडी बिल्डर प्रदीप कुमार दुनिया के स्पोर्ट्समैन के लिए प्रेरणा हैं। वे बचपन के दिनों से ही ड्रग्स लेते थे। इसके बाद बीमारी होने से उनका शरीर कमजोर होता चला गया। डॉक्टर ने उन्हें एड्स बीमारी बताया। इसके बाद उनके बचने की उम्मीद कम हो गई थी। प्रदीप ने एड्स को हराने का ठान लिया। फिर, जमकर प्रैक्टिस करने लगे। आखिरकार, उनकी मेहनत रंग लाई। प्रदीप कुमार का नाम बेस्ट बॉडी बिल्डर में आने लगा।

वर्ल्ड चैम्पियनशिप में जीत चुके हैं ब्रॉन्ज मेडर

- मणिपुर के बॉडीबिल्डर प्रदीप कुमार 2012 में मिस्टर वर्ल्ड चैम्पियनशिप में ब्रॉन्ज मेडलिस्ट रहे हैं।

- सन् 2000 में उन्हें HIV पॉजिटिव होने का पता चला। वे उस वक्त को कोसने लगे जब वे ड्रग्स लिया करते थे। 

- प्रदीप की सेहत गिरने लगी थी, तभी उन्होंने ठान लिया कि वे HIV से लड़ेंगे और बॉडी बिल्डर बनेंगे।

- इसके बाद प्रदीप ने बॉडी बिल्डिंग में जान झोंक दी। उन्होंने पूरी ट्रेनिंग लेकर बेहतरीन बॉडी बनाई और कई कॉम्पिटीशन में भाग लेने लगे और जीते भी।

- 2007 में जब प्रदीप मिस्टर मणिपुर बने, तब उन्होंने अपनी इस गंभीर बीमारी के बारे में सारी दुनिया को बताया। हालांकि, प्रदीप इसके बाद भी नहीं रुके और लगातार कई टाइटल्स जीतते चले गए।

- आपको बता दें कि हाल ही में प्रदीप के एड्स को हराने की कहानी पर एक बुक भी नई दिल्ली में लॉन्च हुई है।