सत्संग करने वले के जीवन में सदा आनंद रहता है :महात्मा सुनील कुमार

गढ़दीवाला, 26 जून (मनप्रीत ): सतगुरु  माता सविंदर हरदेव जी महाराज की कृपा से संत निरंकारी मिशन की ब्रांच मक्कोवाल में मुखी ब्रह्म दास के नेतृत्व में संत समागम का आयोजन किया गया।  इस मौके महात्मा सुनील कुमार जी होशियारपुर वालों ने सत्संग की महत्ता के बारे में बताते हुए कहा कि सत्संग में आने से मानव के जीवन में सुख व आनंद आता है। दुनिया के जितने रंग है, उनको आज तक इंसान को ना तो गुण प्राप्त होते है तथा ना ही आनंद मिलता है। सुख कहीं न मिलता जी सुख सतगुरु  की शरणी। कहने के भाव सतगुरु  की शरण में आकर इंसान को जन्म मरन का दुख जो लगा हुआ है, उससे मुक्ति मिल सकती है। सत्संग में आने से निरंकार प्रभु के शुक्र राने की भावना व अन्य गुण जीवन में आते है। इन गुणों के आने से इंसान सुखी हो जाता है। इस दौरान चमन सिंह होशियारपुर, राजेश कुमार होशियारपुर आदि ने भी अपने विचार रखे। अंत में मुखी महात्मा ब्रह्म दास जी ने आए हुए महात्मा सुनील कुमार जी का दुपटा पहना कर उनका धन्यवाद किया।