RTI के खुलासे के बाद बढ़ सकती है हरीश रावत की मुश्किलें...

एनएनआई:- विधानसभा चुनावों के नतीजे आने से पहले ही उत्तराखंड सरकार एक नए विवाद में घिर सकती है. दरअसल, एक आरटीआई से पता चला है कि हरीश रावत सरकार ने क्रिकेटर विराट कोहली को जून 2015 में 60 सेकेंड के एक वीडियो के लिए 47.19 लाख रुपये दिए थे. इस रकम का भुगतान 2013 में आई भयानक केदारनाथ बाढ़ के राहत फंड में से किया गया था. कोहली को उस समय उत्तराखंड का ब्रांड एंबेसडर बनाया गया था. आरटीआई कार्यकर्ता बीजेपी सदस्य है.

हालांकि 'द टाइम्स ऑफ इंडिया' की खबर के मुताबिक कोहली के एजेंट का कहना है कि किसी तरह के पैसे का लेनदेन नहीं हुआ है. वहीं, मुख्यमंत्री हरीश रावत के मीडिया प्रभारी सुरेंद्र कुमार का कहना है कि टूरिज्म राज्य की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है. अगर उसे बढ़ावा देने के लिए किसी मशहूर चेहरे का प्रयोग किया गया है तो इसमें क्या बुराई है? सबकुछ कानून के दायरे में किया गया. सारे आरोप बेबुनियाद हैं. कुमार ने कहा कि बीजेपी चुनाव हार रही है और इसलिए अपनी हताशा इस तरह के आरोप लगाकर निकाल रही है.

सुरेंद्र कुमार ने बताया कि कोहली के प्रतिनिधि का कहना है कि प्रदेश सरकार की तरफ कोई रकम नहीं मिली है. इस संबंध में संबंधित विभाग से चेक के विवरण की जानकारी ली जाएगी.

आरटीआई एक्टिविस्ट अजेंद्र अजय का कहना है कि आरटीआई में साफ कहा गया है कि कोहली को भुगतान जिला आपदा प्रबंधन अधिकरण रुद्रप्रयाग की तरफ से किया गया है , जबकि इसकी स्वीकृति उत्तराखंड राज्य आपदा प्रबंधन बोर्ड की तरफ से ईमेल पर मिली