श्री कीर्तिचन्द् सूरीसर महाराज के दिक्षा की 48वीं वर्षगांठ पर विद्यार्थियों को प्रवचन दिया ।

DiscoveryTimesराजस्थान  (जालोर )राजस्थान राज्य के जालोर जिले के सायला उपखण्ड मुख्यालय के उम्मेदाबाद गाँव के निकटवर्ती  केशवना  गाँव के  स्थानीय विद्यालय में जैन आचार्य श्री कीर्तिचन्द् सूरीसर  महाराज  के दिक्षा की 48वीं वर्षगांठ पर विद्यार्थियों को प्रवचन दिया ।                                        राजस्थान राज्य के जालोर जिले के सायला उपखण्ड मुख्यालय के उम्मेदाबाद गाँव के निकटवर्ती केशवना गाँव के स्थानीय विघालय में जैन आचार्य श्री कीर्तिचंद सुरीसर महाराज के दिक्षा की 48 वीं वर्षगाँठ पर विधार्थियों को देते हुए यह बताया , कि जगत में मां का उपकार अद्वितीय है, जिसे खोकर व्यक्ति कुछ भी प्राप्त नहीं कर सकता है।म. सा.ने कहा कि वर्तमान संक्रमण काल में भारतीय संस्कारों का पतन हो रहा है, जिसको बनाए रखना माता -पिता  व गुरु का दायित्व है। देशभक्ति का प्रथम पाठ स्वदेशी अपनाना है, धर्म की रक्षा करना है। महाराज सा ने 48 वे दीक्षा ग्रहण दिवस की पर विद्यालय विकास हेतु 48 हजार रुपये की राशी भेंट की। साथ ही C.A. साहेब P.C.छाजेड़ , गणपतराज, छगनराज घोड़ा ,कांतिलाल छाजेड़, ललित छाजेड़,आदि जैन समुदाय के भामाशाहों ने भी उपस्थित होकर 500 विद्यार्थियों को कॉपी पेन रब्बर पेंसिल और शॉर्पनर का सैट भी इस मौके भेंट किया, साथ ही श्री मुनिसुव्रत स्वामी जैन सेवा मंडल के सदस्य शा ओटमल कपूरचंदजी छाजेड़ के ओर से 500 विद्यार्थियों को अंग्रेजी -हिंदी शब्दकोष का वितरण किया गया । साथ ही कुयाराम सुथार की ओर से लकड़ी की स्पीच स्टैंड भी भेंट किया गया। गांव के भामाशाह मसराराम पुत्र राजाराम जी चौधरी की ओर से दस कुर्सियां देने की घोषणा की गई। श्री जैन संघ के केशवना ने  कलापूर्ण विहार प्राण प्रतिष्ठा समारोह में विद्यालय परिवार के सहयोग का हार्दिक आभार व्यक्त किया। एक घंटे तक चले प्रवचन कार्यक्रम ने 500 से अधिक विद्यार्थियों ने पूर्व अनोयोग से ज्ञान  रस पान किया। इस मौके विद्यालय प्राचार्य जटाशंकर दवे ,साजाभारती, प्रहलाद गर्ग, रमेश राठौड़, ललित ठाकुर ,बाबूलाल वैष्णव, जीतू सिंह धांधल, बच्चुसिंह, दिनेश मीणा ,रतनसिंह, पुरुषोत्तम दास, भाग्यवती बालोंत,  शिव गोपाल ,अशोक सुंदेशा, राजाराम सुथार ,नीलम दवे इत्यादि शिक्षक मौजूद !